NetSCoFAN DrHarsh Vardhan network of research FSSAI Food Safety

Dr Harsh Vardhan also launched NetSCoFAN

NetSCoFAN (Network for Scientific Co-operation for Food Safety and Applied Nutrition), a network of research & academic institutions

NetSCoFAN DrHarsh Vardhan network of research FSSAI Food Safety Union Minister of Health & Family Welfare Dr. Harsh Vardhan  launched NetSCoFAN (Network for Scientific Co-operation for Food Safety and Applied Nutrition), a network of research & academic institutions working in the area of food & nutrition along with the NetSCoFAN directory, covering detailed information of various heads/Directors and lead scientists of lead and associated partnering institutions. 

The "NetSCoFAN" would comprise of eight groups of institutions working in different areas viz. biological, chemical, nutrition & labelling, food of animal origin, food of plant origin, water & beverages, food testing, and safer & sustainable packaging. FSSAI has identified eight Nodal Institutions who would develop a ‘Ready Reckoner’ that will have inventory of all research work, experts and institutions and would carry out and facilitate research, survey and related activities. It would identify research gaps in respective areas and collect, collate and develop database on food safety issues for risk assessment activities. 

“The need for identify research gaps in respective areas and collect, collate and develop database on food safety issues for risk assessment activities, will be addressed by NetSCoFAN (Network for Scientific Co-operation for Food Safety and Applied Nutrition).

Dr Harsh Vardhan emphasized the importance of ‘Save Food Share Food’. "Let's develop the habit of not wasting food, and sharing food with those who are needy", he said.  At the event, M/s Elan Professional Private Limited (ElanPro) through their CSR program declared to support Indian Food Sharing Alliance (IFSA) members to ensure the food collected is held at optimum temperature, which will help to reduce travel and distribution time under the ‘Save Food Share Food’ initiative of FSSAI. Presently, 84 food recovery agencies are associated with  IFSA network under FSSAI.

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आज नई दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरु स्टेडियम में दूसरे ईट राइट मेले का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि उचित भोजन से बीमारियां कम होगी। स्वस्थ भोजन की आदत डालने के लिए लोगों को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए। 
डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि एफएसएसएआई (भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण) का ईट राइट मेला एक सराहनीय प्रयास है। ईट राइट मेले को सामुदायिक कार्यक्रमों और स्थानीय मेलों का हिस्सा बनाया जाना चाहिए ताकि लोग विभिन्न आहारों के स्वास्थ्य और पोषण फायदों के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकें। विशेषज्ञों द्वारा लोगों को आहार की सलाह दी जानी चाहिए। व्यंजन बनाने के तरीकों का लाइव प्रदर्शन होना चाहिए। ऐसे आयोजनों से लोगों को मनोरंजन भी मिलेगा।
डॉ. हर्षवर्धन ने द पर्पल बुक लॉन्च किया। यह बीमारियों के लिए उचित आहार बताने वाली पुस्तिका है। इस पुस्तिका में अस्पतालों के लिए मधुमेह, अत्यधिक तनाव, कैंसर, पेट की बीमारियां आदि से संबंधित भोजन के दिशा-निर्देश दिए गए हैं। यह पुस्तिका www.fssai.gov.in  से निशुल्क डाउनलोड की जा सकती है।
कार्यक्रम में डॉ. हर्षवर्धन ने NetSCoFAN (भोजन सुरक्षा और पोषण के लिए वैज्ञानिक सहयोग नेटवर्क) लॉन्च किया, जो भोजन और पोषण के क्षेत्र में काम करने वाले शोध व शैक्षणिक संस्थानों का नेटवर्क है। इस नेटवर्क में विभिन्न प्रमुखों / निदेशकों और वैज्ञानिकों के बारे में विस्तृत जानकारी एक निदेशिका के तहत दी गई है।
  NetSCoFAN के अन्तर्गत जीव विज्ञान, रसायन, पोषण, पशुओँ से प्राप्त भोजन, पेड़ पोधों से प्राप्त भोजन, जल व अन्य पेड़, भोजन की जांच सुरक्षित और टिकाऊ पैकेजिंग आदि। एफएसएसएआई ने आठ नोडल संस्थानों की पहचान की है, जो शोध, सर्वेक्षण और संबंधित कार्य करेंगे। डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि NetSCoFAN खाद्य सुरक्षा मामलों पर डाटा इकट्ठा करेगा और डेटा बेस तैयार करेगा।


Previous Post
Next Post
Related Posts

0 Comments: